Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Header Ad

Latest Shayari:

latest

Sad Shayari | latest Sad Shayari

Sad Shayari |  Latest   Sad Shayari Sometimes many people feel very sad and they want to express their sadness. So  Sad Shayari in hindi  is...

Sad Shayari | Latest Sad Shayari

BEWAFA HINDI SHAYARI


Sometimes many people feel very sad and they want to express their sadness. So Sad Shayari in hindi is the one of the good option to express their inner or mental sadness on social networks etc. Here we are having a large collection of Sad Shayari in Hindi and latest Sad Shayari  on shayariststussms.com website. You can choose any Sad Shayari  or select all type of Sad Shayari  according to their mood and share it on social networks etc.

There are so many reason for getting upset or sad And the best way to get relief of these heart burdens is by reading the sad poem, Bewafai shayari, Sad Shayri, and sad massage. You can find a huge number of sad quotes, Sad Shayari , latest Sad Shayari  on this page.

Sad Shayari | latest Sad Shayari


आहिस्ता से दाखिल हो कर उसने दिल में हमारे..!
हमारे ही दिल से हमें…………बेदखल कर दिया..!!


 

नज़र अंदाज़ करते हो तो, लो हट जाते है नज़रों से!
इन्हीं नज़रों से ढूँढोगे, नजर जब हम नहीं आएंगे !

 


और क्या देखने को बाक़ी है ….
आप से दिल लगा के देख लिया ….


 

कोसने वालों ने कोसा है मिज़ाज-ए-हुस्न को
लूटने वालों ने लुटे हैं मुहब्बत के मज़े !!!

 


तू बेश क़ीमती मोती है मेरे दिल की गहराइयों में !
तू हर पल संग होता है मेरे दिल की तन्हाइयों मे

कहीं यादों का मुकाबला हो तो बताना .
मेरे पास भी किसी की यादें बेहिसाब होती जा रही हैं..

 


तुम हाथों को बेकार की जहमत से बचा लो,
दस्तक का जवाब आता नहीं खाली मकान से..!!


 

वस्ल में फ़स्ल न बाक़ी रहे ऐ जान-ए-जहाँ
जैसे पहलू में है दिल यूँ मेंरे आग़ोश में आ

Sad Shayari | latest Sad Shayari

किसी के ज़ुल्फ़ ने बरहम किए हैं होश-ओ-हवास
लुटा है शाम के रस्ते में क़ाफ़िला दिल का


 

कभी “जो खवाब था, वो पा लिया? _
मगर जो “खो “गई , वो क्या “चीज़ थी!

 


मसीहा दर्द के हमदर्द हो जायें तो क्या होगा ?
रवादारी के ज़ज्बे सर्द हो जायें तो क्या होगा ?


 

देखा जो इश्क आँखों में तो कहने लगा हकीम..!!
अफसोस की तुम अब
इलाज के काबिल ही नहीं रहे….!!


 

अक्स-ए-ख़ुशबू बना दिया तेरी चाहत ने मुझे,
इत्र सी महक रही हैं सांसे तेरे खयाल भर से ही…!!!

 


फिर से महसूस हुई तुम्हारी कमी शिद्दत से…
आज फिर दिल को मनाने में हमें बड़ी देर लगी…


 

Sad Shayari | latest Sad Shayari

 

फुर्सत मिले तो कभी बैठ कर सोचना….
तुम भी मेरे अपने हो…
या सिर्फ हम ही तुम्हारे हैं


 

 


जब खामोश आँखों से बात होती है,
तो ऐसे ही मोहब्बत की शुरुआत होती है,


तेरे ही ख्यालों में खोये रहते हैं,
न जाने कब दिन और कब रात होती है


 

 


इजाजत हो तो हम भी एक  वहम पाल लें,
तुम सब याद करते हो हमें इसको हकीकत मान लें…


 

 


तुम्हें किसी और की तकदीर मे कैसे जाने दें,
हमारा बस चले तो तुम्हें किसी के सपनों में भी ना आने दे..💔


 

 


है कोई वकील इस जहाँ में
जो हारा हुआ इश्क़ जीता सके,,,

Sad Shayari | latest Sad Shayari

 

बड़ी देर कर दी उसने मेरा दिल तोड़ने में
ना जाने कितने शायर मुझसे आगे निकल गये…

 


 

हम चाहते तो कब का उसे  मना लेते..
मगर वो रूठ नहीं  है….बदल गय  है….!

 


 

किसी एक की चाहत बनो हर किसी की तमन्ना नहीं,
जो मज़ा उस एक के इश्क़ में हैं, वो नशा किसी और में नहीं…!!

Sad Shayari


 

फातेहा की रोटी पर कटी जिनकी सारी ज़िंदगी..
ज़रा सी दौलत क्या मिली तबर्रुक हराम कहने लगे.!!

 


 

 


*अहतियात बहुत ज़रूरी है,,,*   
*चाहे सड़क पार कर रहें हों*
*या हद…*

 


कहीं इज़हारे-मोहब्बत सुनके खफा ना होजाए वो 
ये सोचके लगता है खामोश रहना ही अच्छा है.



 

    हाल तो पूछ लू तेरा पर डरता हूँ आवाज़ से तेरी,
ज़ब ज़ब सुनी है कमबख्त मोहब्बत ही हुई है।


*दिल वहीं लौटना चाहता है* 
*जहां दुबारा जाना मुमकिन नहीं होता,*



 

*बचपन, मासूमियत,*
*पुराना घर, पुराने दोस्त*

 


तेरी जगह आज भी कोई नहीं ले सकता , 
पता नहीं वजह तेरी खूबी है या मेरी कमी..!!



 

तुम्हारी दुआओं से मिल जाये शायद कामियाबी मुझे,
ये सोच कर अपनी हर दुआ में याद रखना.

 


चेहरे की हँसी से हर गम छुपाओ,
बहुत कुछ बोलो पर कुछ ना बताओ,


 

खुद ना रूठो कभी पर सबको मनाओ,
राज़ है ये ज़िंदगी का बस जीते चले जाओ


Sad Shayari | latest Sad Shayari


ना डरा मुझे ऐ वक़्त नाकाम होगी तेरी हर एक कोशिश
ज़िन्दगी के मैदान में खड़ा हूँ माँ की दुवाओ को लेकर।


 

मैंने दिल को मना लिया है….
अब ये तेरे बिना भी धड़केगा ….

 


“तूफ़ानों से आँख मिलाओ, सैलाबों पर वार करो
मल्लाहों का चक्कर छोड़ो, तैर कर दरिया पार करो”


 

नज़र झुकाना तो समझ में आता है,
नज़र मिला के,झुकाना गजब की बात है

 


मुख़्तसर सी ज़िन्दगी के भी अजीब फ़साने हैं…
यहाँ तीर भी चलाने हैं और परिन्दे भी बचाने हैं।


 

तूफान ज्यादा हो तो कशतियां भी डूब जाती है …और
अहंकार ज्यादा हो तो हस्तियां भी डूब जाती है !


latest Sad Shayari

उदास दिल है मगर हर किसी से हंस कर मिलते हैं,
यही एक फन सीखा है बहुत कुछ खोने के बाद।

 


 

सुलगती रेत में पानी की अब तलाश नहीं,
मगर ये मैंने कब कहा के मुझे प्यास नहीं..!

 


 

फिजाओं से उलझ कर एक हसीं यह राज जाना हैं 
जिसे कहतें हैं मोहब्बत वहनशा ही कातिलाना है …
 
Sad Shayari | latest Sad Shayari


 

अधूरी कहानी पर खामोश होठों का पहरा है,
चोट रूह की है इसलिए दर्द जरा गहरा है !

 


एक छुपी हुई पहचान रखता हूँ,
बाहर शांत हूँ, अंदर तूफान. रखता हूँ, 
 


रख के तराजू में अपने दोस्त  की खुशियाँ,
दूसरे पलड़े में मैं अपनी जान रखता हूँ।

 


 

मुर्दों की बस्ती में ज़मीर
को ज़िंदा रख कर,
ए जिंदगी मैं तेरे उसूलों का मान
रखता हूँ।

 


Sad Shayari | latest Sad Shayari

झांकने की सब से बेहतरीन जगह गिरेबान है
रहने की बेहतरीन जगह अपनी औकात है।

 


राहों का ख़्याल है मुझे, मंज़िल का हिसाब नहीं रखता,,
अल्फ़ाज़ दिल से निकलते है, मैं कोई किताब नहीं रखता….




*हक़ उतना ही जताइये, जितना जायज़ लगे…!!*
*रिश्ता फेरों का हो! या मोहब्बत का, घुटन न लगे…।।*



Tags-